मुजफ्फरनगर में मकान की छत गिरी, तीन बच्चों की दबकर मौत, पिता गंभीर

0
60
मुजफ्फरनगर : जनपद की सिखेड़ा गांव में सोमवार सुबह बारिश के दौरान एक मकान की छत भरभराकर गिर गई। इस हादसे में तीन बच्चों की छत के मलबे में दबकर मौत हो गई, जबकि उनके पिता भी गंभीर रूप से घायल हो गए। ग्रामीणों ने पुलिस को घटना की सूचना देने के साथ ही मलबे में दबे तीनों बच्चों और उनके पिता को बाहर निकाला। पुलिस ने तीनों बच्चों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है, जबकि घायल पिता को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सिखेड़ा गांव में सोमवार सुबह तीन बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई। बारिश के कारण मकान की छत भरभराकर गिर पड़ी। मलबे में पिता समेत तीनों बच्चे दब गए थे, लेकिन पिता किसी तरह से मलबे से बाहर आकर बच गया। हादसे की सूचना पर आस पड़ोस के लोगों ने मलबा हटाया, लेकिन तीनों बच्चे बच नहीं सके। जबकि पिता गंभीर रूप से घायल हो गया।
गुलशन पुत्र मंगता का परिवार सिखेड़ा गांव के बाहर मकान बनाकर रहता है। सोमवार की सुबह लगभग साढ़े पांच बजे बारिश शुरू हो गई, जिससे गुलशन उसकी पत्नी परवीन और चारो बच्चे उठकर बैठ गए। इसी दौरान गुलशन ने अपनी पत्नी से चाय बनाने को कहा। इसके बाद पत्नी परवीन एक बच्चे आसियान को लेकर बाहर चूल्हे पर चाय बनाने चली गई। इसी दौरान अचानक कमरे की कच्ची छत भरभराकर नीचे गिर गई। इस हादसे में गुलशन, उसका पुत्र जुनैद(11), पुत्री नाजिया(9) और साबिया(7) छत के मलबे में दब गए। हादसे के बाद चीख-पुकार मच गई।पड़ोस के लोग इकट्ठा हो गए। काफी मशक्कत के बाद मलबे से चारों को बाहर निकाला गया तथा जिला अस्पताल पहुंचाया गया। वहां पर डॉक्टरों ने तीन बच्चों को मृत घोषित कर दिया। सूचना पर मौके पर पहुंचे पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने घटना की जानकारी ली। पुलिस ने बच्चों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।