मेरठ बवाल : सरेंडर करने पहुंचे बदर अली को पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
112
मेरठ : रविवार को शहर में हुए बवाल के मुख्य आरोपी बदर अली को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। अपने इर्द-गिर्द पुलिस का शिकंजा कसता देख वह गुरुवार को थाने में सरेंडर करने पहुंचा था, लेकिन पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए उसे अपनी कस्टडी में ले लिया।
झारखंड में उन्मादी भीड़ के हाथों अल्पसंख्यक समुदाय का एक युवक मारा गया था। इसके विरोध में प्रशासन से अनुमति लिए बिना ही युवा सेवा समिति के अध्यक्ष बदर अली ने 30 जून को पैदल मार्च निकालने का ऐलान कर दिया। पुलिस प्रशासन की मनाही के बाद भी अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने रविवार को जुलूस निकाला। इस दौरान बवाल हो गया। देर रात कई लोगों को गिरफ्तार भी किया गया, लेकिन मुख्य आरोपी बदर अली फरार चल रहा था।
बुधवार को नवागत एसएसपी अजय साहनी ने पत्रकारों से बातचीत में बदर अली पर कई तरह की कार्रवाई किए जाने की जानकारी देने के साथ ही पांच हजार रुपये का इनाम देने की भी घोषणा की। एसएसपी ने गैंगस्टर में निरुद्ध करने के साथ ही संपत्ति कुर्क किए जाने का ऐलान भी किया।
उधर, अपने इर्द-गिर्द पुलिस प्रशासन का शिकंजा कसते देख बवाल के मुख्य आरोपी बदर अली ने गुरुवार को थाने में सरेंडर करने का निर्णय लिया तथा दोपहर में थाने में सरेंडर करने के लिए पहुंच गया। इसके बाद पुलिस ने उसे अपनी कस्टडी में ले लिया। इसके बाद उसे देहली गेट थाने लाकर जेल भेजने की कार्रवाई शुरू कर दी गई।
दूसरी ओर कोर्ट में सरेंडर की सूचना पर कचहरी परिसर छावनी में तब्दील कर दी गई थी। साथ ही कचहरी में सरेंडर करने पर कप्तान ने देहली गेट, लिसाड़ी गेट और कोतवाली इंस्पेक्टर को निलंबन की चेतावनी दी थी।
गौरतलब है कि मेरठ बवाल के मामले में पुलिस ने अब तक पचास बवालियों को गिरफ्तार कर चुकी है।