ईस्टर पर श्रीलंका में सीरियल ब्लास्ट, 290 लोगों की मौत, पांच सौ घायल

0
263

कोलंबो : श्रीलंका की राजधानी कोलंबो रविवार को ईस्टर पर्व पर छह सीरियल बम धमाकों और दो आत्मघाती हमलों से दहल गया। आतंकियों ने पहले तो तीन चर्चों तथा तीन फाइव स्टार होटलों को निशाना बनाया है तथा बाद में दो आत्मघाती हमलों को अंजाम देकर श्रीलंका को बुरी तरह झकझोर दिया। ईसाइयों के धार्मिक पर्व को निशाना बनाकर किए गए इन आठ सीरियल ब्लास्ट में 290 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 500 के लगभग लोग घायल हुए हैं। कोलंबो नेशनल हॉस्पिटल ने बताया कि धमाके के बाद 80 लोगों का उनके अस्पताल में इलाज किया जा रहा है।

इस बीच सातवां धमाका दक्षिणी कोलंबो के देहिवाला के एक होटल में हुआ है। इसमें दो लोगों की मौत हो गई है। आठवें धमाके की पूरी जानकारी फिलहाल सामनेे नहीं आई है। पर यह भी आत्मघाती हमला है। इस हमले में छह भारतीय नागरिकों के भी मारे जाने का जिक्र है। मामले में 24 संदिग्ध लोगों को गिरफ्तार किया गया है। सरकारी सूत्रों ने इस हमले में कुल 52 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की है। साथ ही मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई है। उधर, मीडिया रिपोर्ट में 290 लोगों के मारे जाने की खबर है। आतंकियों ने कोलंबो, नेगेंव और बट्टिकलोआ में इन घटनाओं को अंजाम दिया है। पूरे श्रीलंका में आज अफरा-तफरी का माहौल है।

स्थानीय पुलिस ने बताया कि ये सीरियल धमाका उस वक्त हुआ, जब रविवार को प्रार्थना के लिए लोग चर्च में जमा हुए थे। फिलहाल अभी तक किसी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।
कोलंबो पुलिस ने बताया कि आतंकियों ने तीन चर्च और तीन फाइव स्टार होटल को निशाना बनाया है। पुलिस के मुताबिक 8 बजकर 45 मिनट पर कोलंबो में पहला धमाका हुआ था। इसके बाद लगातार बट्टिकलोआ आदि जगहों पर धमाके हुए। इससे पूरा श्रीलंका दहल गया। हर शहर में अफरा-तफरी का महौल था। हर शख्स सुरक्षित स्थान की तलाश में इधर-उधर भागते नजर आया। बताया जा रहा है कि सूचना मिलते ही दमकल विभाग और पुलिस की टीम मौके पर पहुंच गई है। इन लोगों ने सबसे पहले घायलों को अस्पताल पहुंचाना शुरू किया। फिलहाल राहत और बचाव कार्य जारी है।
स्थानीय पुलिस ने बताया कि ये सीरियल धमाका उस वक्त हुआ, जब प्रार्थना के लिए लोग चर्च में जमा हुए थे। फिलहाल किसी भी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।