सिंधिया समर्थक विधायकों का हंगामा, अब कांग्रेस के सामने नई मुसीबत

0
201
नई दिल्ली : मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री पद पर कमलनाथ की ताजपोशी से पहले ही एक बखेड़ा खड़ा हो गया है। अब मुख्यमंत्री पद के अहम दावेदार रहे कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के 11 समर्थक विधायकों ने हंगामा कर दिया है। वे सिंधिया को तुरंत ही प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने की मांग कर रहे थे। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर ऐसा नहीं होता तो वे सरकार के पक्ष में वोट नहीं करेंगे। सिंधिया समर्थक इन विधायकों के हंगामे ने कांग्रेस के सामने एक नई मुसीबत खड़ी कर दी है।
बता दें कि शनिवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया के ये समर्थक विधायक दिल्ली में उनके घर के बाहर जुटे और जमकर नारेबाजी की। सभी सिंधिया को प्रदेश अध्यक्ष बनाने की मांग कर रहे थे। सिंधिया को इन्हें संभालने में खासी मशक्कत भी करनी पड़ी। इसी भीड़ से यह आवाज भी आई कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो हम आत्महत्या कर लेंगे।
आपको बता दें कि अब तक कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी कमलनाथ संभाल रहे थे। जाहिर है, मुख्यमंत्री बनने के बाद यह पद खाली हो जाएगा।
इससे पहले मुख्यमंत्री की दौड़ के लिए भी ज्योतिरादित्य और कमलनाथ का नाम साथ-साथ चल रहा था। सिंधिया को उपमुख्यमंत्री के पद की पेशकश की गई, लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया। यहां कमलनाथ बाजी मार ले गए। ऐसे में उनके समर्थक अब उन्हें मध्यप्रदेश के कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर देखना चाहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here