टीम इंडिया के पूर्व कप्तान अजीत वाडेकर का निधन

0
339

मुंबई

: पूर्व भारतीय क्रिकेटर और कप्तान अजीत वाडेकर का बुधवार रात मुंबई के जसलोक अस्पताल में निधन हो गया। वह 77 वर्ष के थे। वह लंबे समय से कैंसर से जूझ रहे थे। वाडेकर की कप्तानी में भारत ने वर्ष 1971 में इंग्लैंड और वेस्टइंडीज में पहली बार टेस्ट मैच और टेस्ट सीरीज जीती थी।
बता दें कि 1971 में इंग्लैंड और वेस्ट इंडिज को उन्हीं की धरती पर हराकर तहलका मचा देने वाली भारतीय क्रिकेट टीम में कप्तान अजीत वाडेकर के अलावा सुनील गावस्कर, गुन्डप्पा विश्वनाथ, बिशन सिंह बेदी, बी.एस. चंद्रशेखर भी थे। जब मोहम्मद अजहरुद्दीन टीम इंडिया के कप्तान थे, तब भारतीय टीम के मैनेजर के रूप में वाडेकर ने ही जिम्मेदारी निभाई थी। बाद में वह मुख्य चयनकर्ता भी बने। उनके परिवार में पत्नी रेखा के अलावा दो पुत्र और एक पुत्री है।
आठ साल के अंतरराष्ट्रीय करियर में बायें हाथ के बल्लेबाज अजीत वाडेकर ने कुल 37 टेस्ट मैच खेले। 1971 से 1974 के दौरान उन्होंने 16 टेस्ट मैचों में भारतीय टीम की कप्तानी की, जिसमें से चार मैच जीते, चार हारे, जबकि आठ मैच ड्रॉ रहे। वह दो वनडे मैच भी खेले और दोनों में उन्होंने भारतीय टीम की कमान संभाली। वनडे क्रिकेट में वह भारतीय टीम के पहले कप्तान थे। वनडे कप्तान के रूप में उन्हें दोनों मैचों में हार का सामना करना पड़ा। वाडेकर कुशल क्षेत्ररक्षक भी थे। उन्होंने 37 टेस्ट मैच में एक शतक और 14 अर्द्धशतकों के साथ कुल 2113 रन बनाए।
वाडेकर के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर शोक जताया है। अनपे ट्वीट में प्रधानमंत्री ने लिखा, ‘अजीत वाडेकर को भारतीय क्रिकेट में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए याद किया जाएगा। एक महान बल्लेबाज और शानदार कप्तान, उनकी कप्तानी में टीम को कई यादगार लम्हे मिले। इन उपलब्धियों के साथ-साथ उन्हें प्रभावी क्रिकेट प्रशासक के रूप में भी आदर के साथ याद किया जाएगा। उनके निधन से दुखी हूं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here