ट्रक लेकर रायपुर गए तीन युवकों को नक्सलियों ने जिंदा जलाया

0
329
गाजियाबाद/रायपुर : यूपी के गाजियाबाद से ट्रक लेकर छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर जा रहे तीन युवकों को नक्सलियों ने जिंदा जला दिया। इस हृदयविदारक घटना की जानकारी मिलते ही उनके परिवार में कोहराम मच गया।

सिरसागंज के कठफोरी के ट्रक मालिक के परिवार को छत्तीसगढ़ के रायपुर जाने का भाड़ा मिला था। इस पर ट्रक मालिक ने अपने भाई को एक चालक और हेल्पर के साथ ट्रक में माल ले जाने के लिए भेज दिया। लेकिन सोमवार को खबर आई कि रायपुर से कुछ पहले ही नक्सलियों ने इन तीनों को जिंदा जला दिया।

कठफोरी निवासी अंजू पुत्र हरिदत्त अपना ट्रक भाड़े पर चलाते हैं। चार अगस्त को उन्हें गाजियाबाद से रायपुर छत्तीसगढ मैटी ले जाने का भाड़ा मिला तो उन्होंने अपने भाई संजू बघेल (28) , दिनेश (32) पुत्र गंगादास निवासी कठफोरी और राजकिशोर (30) पुत्र रामचंद्र निवासी सिरसागंज को ट्रक लेकर कठफोरी से गाजियाबाद भेज दिया। तीनों युवक गाजियाबाद से माल लादकर रायपुर के लिए रवाना हो गए। सात अगस्त को जब अंजू ने अपने भाई संजू बघेल से बात की तो संजू ने बताया कि वह रायपुर से बीस किलो मीटर दूर रह गया है। वह एक-दो घंटे में गोदाम तक पहुंच जाएगा। लेकिन उसके बाद से ही तीनों के मोबाइल ने काम करना बंद कर दिया। सात अगस्त की शाम से जब किसी से कोई संपर्क नहीं हुआ तो अंजू के साथ अन्य लड़कों के परिजन भी रायपुर के लिए रवाना हो गए।

अंजू ने बताया कि वहां पर पुलिस हमारे मामले की घटना की रिपोर्ट लिखने को तैयार ही नहीं थी। किसी तरह से अंजू ने अपनी रिपोर्ट रविवार की रात में दर्ज कराई, लेकिन सोमवार की सुबह दस बजे पुलिस को रायपुर से बीस किलोमीटर पहले एक नाले के नीचे तीन जले हुऐ शव मिलने की सूचना मिली। मौके पर पहुंचे अंजू ने तीनों शवों की पहचान कर ली है, जबकि माल से लदा ट्रक गायब है। इस घटना की सूचना मिलते ही उनके परिवार में कोहराम मचा है। रायपुर से तीनों युवकों के शव लाने की व्यवस्था की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here