दीदी’ के गढ़ में आज गरजेंगे भाजपा के ‘चाणक्य’, शह और मात का खेल शुरू

0
381

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में तृणमूूू कांग्रेस और भाजपा के बीच ‘तू डाल-डाल, मैं पात-पात’ वाला जबरदस्त सियासी खेेेल देखने को मिल रहा है। शनिवार 11 अगस्त को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह मेयो रोड पर जनसभा को संबोधित करने वाले हैं। इस जनसभा में वह ममता बनर्जी के खिलाफ जमकर हल्ला बोलेंगेे। उधर, टीएमसी ने भी अपना दांव चल दिया है। उसने कोलकाता के मेयो रोड स्थित अमित शाह के सभास्थल का सियासी विरोध करना शुरू कर दिया है। दरअसल, जहां अमित शाह की सभा होनी है, उस इलाके में और वहां की सड़कों को टीएमसी ने अपने झंडों और पोस्टरों से पाट दिया है। पोस्टर पर लिखा हुआ है ‘एंटी बंगाल भाजपा गो बैक’। तृणमूल ने सिर्फ सड़कों के किनारे ही नहीं, बल्कि मंच के आसपास तक को झंडों से पाट दिया है। जहां भाजपा की रैली के लिए मंच तैयार किया जा रहा है, वहां तक तृणमूल के झंडे लगे हैैं। ये झंडे जनता को भ्रमित करने के लिए काफी हैं। जनता यह नहीं समझ पा रहे हैं कि यहां भाजपा की रैली है या तृणमूल की।

इस बारे में जब तृणमूल के नेताओं से पूछा गया तो उनका कहना है कि 15 अगस्त की तैयारी के मद्देनजर इस इलाके को तृणमूल के झंडों और ममता बनर्जी के पोस्टरों से सजा रहे हैं। इसमें अमित शाह की मीटिंग का कोई मामला नहीं है। वैसे यह पहली बार नहीं है। इससे पहले जून में अमित शाह के पुरुलिया व वीरभूम दौरा हो या फिर 16 जुलाई को पीएम नरेंद्र मोदी की सभा, तृणमूल कार्यकर्ताओं ने पूरे इलाके को ममता के पोस्टरों और तृणमूल के झंडे से पाट दिया था।

बंगाल भाजपा के महासचिव राजू मुखर्जी ने कहा, यह अच्छी बात है कि वे अमित शाह का स्वागत कर रहे हैं, ऐसा उन्होंने पश्चिमी मेदिनीपुर और पुरुलिया में भी किया था। यह अच्छी अनुभूति दे रहा है कि ममता की पार्टी अमित शाह का स्वागत कर रही है। यह तृणमूल की रणनीति है कि वह अपने झंडों के जरिए इलाके में अपना दबदबा दिखाए, लेकिन बीजेपी भी कम नहीं है। वह भी अब मेयो रोड पर अपने झंडे लगा रही है। इसके बाद भाजपा की रैली वाले इस इलाके में दोनों पार्टियों के बीच फ्लैग वॉर दिखना लाजिमी है।