उन्मादी भीड़ ने युवक को मारा, साथी की बची जान

0
136

अहमदाबाद : गुजरात के दाहोद में शनिवार की रात उन्मादी भीड़ ने मोबाइल चोरी के आरोप में दो युवकों की जमकर पिटाई कर दी। इस घटना में एक 22 वर्षीय युवक की मौत हो गई, जबकि दूसरे युवक की मौके पर पहुंची पुलिस के कारण जान बच गई। पुलिस ने घायल युवक को अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उसकी हालत गंभीर है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। आरोपियों की पहचान की जा रही है। हालांकि अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

पुलिस की शुरुआती जांच में पता चला है कि शनिवार की रात उन्मादी भीड़ के हाथों मारे गए अजमल वहोनिया पर चोरी, दंगा और अन्य अपराध के करीब 32 मामले दर्ज हैं। वह धानपुर तहसील के उंडारका का रहने वाला था, जबकि गंभीर रूप से घायल युवक भारू माथुर (25) गरबाडा तहसील के खुजरिया गांव का रहने वाला है। फिलहाल मामले की जांच चल रही है।

बता दें कि हाल के दिनों में गोहत्या और बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने कई लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी है। सुप्रीम कोर्ट ने इस तरह की घटनाओं पर चिंता जताते हुए मॉब लिंचिंग और गौरक्षकों के नाम पर हिंसा करने वालों से सख्ती से निपटने के लिए सरकार को कड़े कानून बनाने को कहा है।