पाकिस्तान में आतंकी हमले, सिराज रायसानी समेत 133 लोगों की मौत

0
484

इस्लामाबाद : पाकिस्तान में आगामी 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव के मद्देनज़र आतंकवादियों ने दो चुनावी रैलियों पर हमला किया। इन हमलों में बलूचिस्तान अवामी पार्टी ( बीएपी) के शीर्ष नेता सिराज रायसानी समेत 133 लोगों की मौत हो गई, जबकि 120 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। इनमें से कई की हालत गंभीर हैं। राष्ट्रपति ममनून हुसैन और प्रधानमंत्री नसीरूल मुल्क ने इन हमलों की कड़ी निंदा की है। अभी तक किसी भी आतंकवादी संगठन ने इन हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है।
बलूचिस्तान के मस्तंग क्षेत्र में आतंकियों ने बलूचिस्तान अवामी पार्टी (बीएपी) के नेता सिराज रायसानी की रैली पर आत्मघाती हमला किया। इसमें 128 लोग मारे गए जबकि 125 लोग घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि क्वेटा के अस्पताल ले जाए जाने के दौरान घायल सिराज की मौत हो गई। सिराज बलूचिस्तान के पूर्व मुख्यमंत्री नवाब असलम रायसानी के भाई थे और मस्तंग जिले से चुनाव लड़ रहे थे। इससे पहले शुक्रवार को ही आतंकियों ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बन्नू शहर में मुत्ताहिदा मजलिस ए अमल (एमएमए) के नेता अकरम खान दुर्रानी की रैली को निशाना बनाया। इस हमले में पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि 37 से ज्यादा लोग घायल हो गए। दुर्रानी इस हमले में बाल-बाल बच गए। बाद में उन्होंने अस्पताल जाकर घायलों का हाल-चाल जाना और कहा कि वह अपना प्रचार अभियान जारी रखेंगे। दुर्रानी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के प्रमुख इमरान खान के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। वहीं, इमरान खान ने कहा, ‘यह आगामी चुनाव में अड़ंगा डालने की कोशिश है। पाकिस्तान की जनता ऐसी किसी भी साजिश को नाकामयाब करेगी। ‘बता दें कि अभी 10 जुलाई को ही पेशावर में पाकिस्तान तहरीक ए तालिबान के आत्मघाती हमले में अवामी नेशनल पार्टी के वरिष्ठ नेता हारून बिल्लौर समेत 19 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि सात जुलाई को बन्नू में ही मुत्ताहिदा मजलिस ए अमल के एक काफिले पर हुए हमले में सात लोग घायल हो गए थे।