गैंगरेप के विरोध में राहुल का कैंडल मार्च, प्रियंका से धक्का-मुक्की

0
455

नई दिल्ली : उन्नाव और कठुआ दुष्कर्म के विरोध में कांग्रेस के नेताओं ने राहुल गांधी के नेतृत्व में गुरुवार की देर रात दिल्ली में कैंडल मार्च निकाला। मानसिंह रोड से इंडिया गेट तक निकाले गए इस कैडल मार्च में शामिल प्रियंका गांधी के साथ भीड़ ने धक्का-मुक्की की। भीड़ की इस हरकत से नाराज प्रियंका गांधी ने नाराजगी जताते हुए धक्का-मुक्की करने वालों को घर जाने की सलाह दी। इससे पूर्व रात नौ बजे राहुल गांधी ने ट्वीट कर लोगों से इस कैंडल मार्च में शामिल होने की अपील की।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के उन्नाव में हुए गैंगरेप और जम्मू-कश्मीर के कठुआ में हुए रेप के बाद हत्या को लेकर देश के लोगों जबरदस्त गुस्सा है। दोनों घटनाओं में भाजपा नेताओं के रवैये को लेकर आम लोग भारतीय जनता पार्टी से नाराज हैं। इसी को देखते हुए कांग्रेस नेताओं ने गुरुवार की देर रात कैंडल मार्च निकालने का निर्णय लिया। गुरुवार की देर रात दिल्ली में मान सिंह रोड से इंडिया गेट तक निकाले गए कैंडल मार्च में कांग्रेस नेताओं ने भारतीय जनता पार्टी पर जमकर हमला बोला। इस मौके पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री गुलाम नवी आज़ाद ने कहा कि कांग्रेस के दबाव के बाद उन्नाव और कठुआ रेप के आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज हो गया, लेकिन अब भाजपा के मंत्री ही आरोपियों को बचाने में लग गए। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्य अजय माकन ने कहा कि उन्नाव और कठुआ में इतनी बड़ी घटना हो गई और दोनों जगहों की सरकार सो रही है। इन दोनों जगहों की सरकार को जगाने के लिए ही गुरुवार की देर रात 12 बजे कैडल मार्च निकाला जा रहा है।
इस बीच कैंडल मार्च में अपनी बेटी के साथ पहुंची प्रियंका गांधी को इंडिया गेट पहुंचने में काफी परेशानी हुई। भीड़ में धक्का-मुक्की के कारण प्रियंका गांधी नाराज भी हुईं। उन्होंने धक्का-मुक्की करने वालों को घर जाने की सलाह दी।
राहुल गांधी ने कहा कि यह सिर्फ राष्ट्र का मामला है। एक के बाद एक हत्या, दुष्कर्म की घटनाएं हो रही है। महिलाओं के साथ अत्याचार हो रहा हैं। राज्य की सरकारों को इन मामलों में कुछ करना चाहिए, ताकि महिलाएं अपने आपको सुरक्षित समझ सकें।