केजरीवाल ने दिया कुमार विश्वास को झटका, राजस्थान प्रभारी पद से हटाया

0
406

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल और प्रसिद्ध कवि कुमार विश्वास के बीच कुछ भी अच्छा नहीं चल रहा है। दोनों के बीच चल रही नाराजगी, जो अभी तक कारपेट के नीचे थी, आज सतह पर आ गई। आम आदमी पार्टी ने आज कुमार विश्वास को राजस्थान प्रभारी पद से हटा दिया तथा उनकी जगह पर दीपक वाजपेयी को नियुक्त कर दिया। पार्टी के इस निर्णय की घोषणा आप प्रवक्ता आशुतोष ने एक संवाददाता सम्मेलन में की। कुमार को गत वर्ष राजस्थान का प्रभारी नियुक्त किया गया था । इसके बाद उन्होंने राजस्थान में जाकर पार्टी नेताओं के साथ बैठकें कर दावा किया था कि 2018 में होने वाले विधानसभा चुनावों में वसुंधरा राजे सरकार को हटाने में आप को सफलता मिलेगी।

आशुतोष ने कहा, ‘दीपक वाजपेयी राजस्थान में विधानसभा चुनावों के प्रभारी होंगे। अपनी व्यस्तताओं के कारण कुमार विश्वास चुनावी तैयारियों में समय नहीं दे पा रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि ‘आप’ पूरी ताकत के साथ राजस्थान विधानसभा चुनाव लड़ेगी। आशुतोष ने कहा कि वाजपेयी राजस्थान में चुनावों के लिए उम्मीदवारों की सूची तैयार करेंगे और पार्टी की राजनीतिक मामलों की समिति इसे अंतिम रूप देगी।

दिल्ली में इस वर्ष हुए राज्यसभा चुनावों में टिकट नहीं मिलने के चलते कुमार विश्वास और पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल के बीच संबंध ठीक नहीं चल रहे थे।कुमार विश्वास आए दिन ट्वीटर पर ट्वीट करके आप नेताओं पर कटाक्ष करने का कोई मौका नहीं छोड़ते थे। विश्वास ने कहा भी था कि जो केजरीवाल से सहमत नहीं है, पार्टी में उसके लिए कोई जगह नहीं है। इसके बावजूद उन्होंने यह कहा था कि वह पार्टी को नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने स्पष्ट कहा कि इस पार्टी के गठन में मेरा भी योगदान रहा है, इसलिए पार्टी छोड़ने का सवाल ही नहीं है।राजस्थान प्रभारी पद से हटाए गए कुमार विश्वास की अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है, लेकिन राजस्थान से उनके समर्थकों की ओर से जो खबरें आ रही हैं, वे पार्टी के लिए कतई अच्छी नहीं हैं। पार्टी के इस कदम की राजस्थान में हर तरफ आलोचना हो रही है। बता दें कि राजस्थान में इसी साल नवंबर में विधानसभा चुनाव है और ऐन वक्त पर कुमार विश्वास को राजस्थान प्रभारी पद से हटाना आप के लिए घातक साबित हो सकता है।