स्मिथ और वार्नर पर एक साल का बैन

0
492

नई दिल्ली : बॉल टैम्परिंग मामले में क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने सख्त कदम उठाते हुए स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर पर किसी भी तरह की क्रिकेट खेलने पर एक साल के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। साथ ही कप्तानी करने पर भी दो साल के लिए रोक लगा दी है। इस मामले में बॉलर कैमरन बेनक्राफ्ट पर भी नौ महीने का प्रतिबंध लगाया गया है। क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने यह सख्त कदम वहां के प्रधानमंत्री के इस मामले पर कड़ा रुख अख्तियार करने पर उठाया है। इस बीच सूत्रों का यह भी कहना है कि स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर के भारत में आईपीएलखेलने पर भी रोक लग सकती है।

बॉल टैम्परिंग मामले में हो रही किरकिरी को देखते हुए क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने अपने सीईओ जेम्स सदरलैंड को साउथ अफ्रीका भेजा था। जेम्स सदरलैंड ने जोहानिसबर्ग पहुंचकर वहां पर पूरे मामले की तहकीकात की तथा इस संबंधमें कार्यकारी महाप्रबंधक टीम परफॉर्मेंस पैट हावर्ड और सीनियर कानूनी सलाहकार इयान रॉय से बातचीत कर अपनी रिपोर्ट क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को भेज दी। इसके बाद क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने जेम्स सदरलैंड की रिपोर्ट पर कार्रवाई करते हुए स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर एक साल का बैन लगा दिया, जबकि गेंद से छेड़छाड़ करने वाले कैमरन बेनक्राफ्ट पर नौ महीने का प्रतिबंध लगाया गया है। इन तीनों खिलाड़ियों को मामली उछलने के बाद ही सस्पेंड कर दिया गया था। अब तीनों ही प्रतिबंधित खिलाड़ियों को तत्काल ही साउथ अफ्रीका का दौरा बीच में ही छोड़कर ऑस्ट्रेलिया लौट जाने के लिए कह दिया गया है। उधर, क्रिकेट आस्ट्रेलिया से प्रतिबंधित स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर के आईपीएल में खेलने या नहीं खेलने का फैसला बीसीसीआई को लेना है। वैसे, सूत्रों ने जो जानकारी दी है, उसके अनुसार बीसीसीआई भी इन दोनों खिलाड़ियों के आईपीएल खेलने पर रोक लगा सकती है। इस बीच काफी किरकिरी होने के बाद स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर ने आईपीएल में अपनी-अपनी टीम की कप्तानी पहले ही छोड़ दी है।

 

स्मिथ और वॉर्नर दोनों खिलाड़ियों के IPL में खेलने का फैसला बीसीसीआइ करेगा। इन दोनों ही खिलाडियों ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की सज़ा का फैसला आने से पहले ही अपनी अपनी टीमों की कप्तानी छोड़ दी है। स्टीव स्मिथ राजस्थान रॉयल्स के कप्तान थे तो वहीं वॉर्नर सनराइजर्स हैदराबाद की कमान संभालते थे, लेकिन क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के इस फैसले के बाद अब गेंद बीसीसीआइ के पाले में है।