वही राग, वही अलाप

0
693

रांची की सीबीआई कोर्ट ने राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को देवघर चारा घोटाले में दोषी ठहराते हुए जेल भेज दिया है। कोर्ट के इस निर्णय के बाद देश की राजनीति में भूचाल आ गया। लालू प्रसाद यादव और कांग्रेस के नेताओं का वही पुराना राग और वही पुराना अलाप शुरू हो गया है। लालू यादव ने अपने आपको पाक-साफ बताते हुए इसे भारतीय जनता पार्टी की साजिश करार दिया है। तेजस्वी यादव समेत राजद के कई नेताओं ने इसे नीतीश कुमार और भारतीय जनता पार्टी की साज़िश करार देते हुए गरीब-गुरबों पर हमला बताया। तेजस्वी यादव ने प्रेस से बात करते हुए कार्यकर्ताओं से 14 जनवरी से पूरे बिहार में आंदोलन करने का आह्वान किया। कांग्रेस ने भी कोर्ट के इस फैसले को लेकर नाखुशी जताई है।

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने भगवान शंकर की नगरी देवघर को भी नहीं बख्शा। उन्हें भोले बाबा की सवारी नन्दी का चारा चट करने में तनिक भी हिचक नहीं हुई। सीबीआई कोर्ट ने इसी 80 लाख रुपये के चारा घोटाले में लालू  प्रसाद यादव को दोषी ठहराया है। कोर्ट के इस निर्णय के बाद राजनीति में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया। कुछ दिन पहले कांग्रेस और राजद के जो नेता 2G घोटाले पर आए कोर्ट के फैसले को न्याय की जीत बता रहे थे, वही अब सीबीआई कोर्ट के फैसले पर नाखुशी जता रहे हैं। दोषी लालू प्रसाद यादव और उनका कुनबा वही पुराना राग अलाप रहे हैं। तेजस्वी यादव और राष्ट्रीय जनता दल के अन्य नेता इसके लिए नीतीश कुमार और भाजपा को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। तेजस्वी यादव ने प्रेस से बातचीत में अपने पिता को पाक-साफ बताया तथा इसके खिलाफ अगले साल 14 जनवरी के बाद पूरे बिहार में आंदोलन चलाने का ऐलान किया। उधर कांग्रेस के नेता भी राजद के पदचिह्नों पर ही चलते हुए दिख रहे हैं। उन्हें भी कोर्ट के फैसले पर हैरानी हुई है। यानी वही पुराना राग और वही पुराना अलाप जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here